Services are only available on call. No written reports will be shared due to busy schedules!

Services From This Website Will Be Entertained Only On Telephonic Conversations. No Written Reports Will Be Shared Due To Busy Schedules!





Call: +91-9125000031   WhatsApp: +91-9125000013

My Cart:
Total 0.00 ₨
 x 

Your shopping cart is empty!

Total 0.00 ₨
Saturday, 16 February 2019 06:05

पुलवामा हमला – क्या भारत करेगा दुश्मन पर जबर्दस्त कार्यवाही :-

Written by
Rate this item
(2 votes)
pulwama attack pulwama attack
पुलवामा हमला – क्या भारत करेगा दुश्मन पर जबर्दस्त कार्यवाही :-   14 फरवरी 2019 को कश्मीर के पुलवामा जिलों में अर्धसैनिक बल सी.आर.पी.एफ पर बीच रास्ते में पाकिस्तान परस्त आतंकवादियों ने जबरदस्त हमला किया और अभी तक 40 के करीब जावान शहीद हो गए हैं ! पूरा देश स्तब्ध और गुस्से में है ! आइये देखते हैं की वैदिक ज्योतिषीय गड़ना क्या कहती है ! क्या भारत इस पर सामान्य कार्यवाही करेगा या मुंहतोड़ जवाब देगा कि दुनियाँ मुंह ताकती रह जाएगी !   क्या कहती है स्वतंत्र भारत तथा पाकिस्तान की कुंडली :-     वर्तमान में गोचर में भारत की बृष लग्न कि कुंडली में सूर्य 15 मार्च तक दशम भाव में गोचर कर रहा है ! गोचर का शनि जनवरी 2020 तक देश कि स्वतन्त्रता की बृषभ लग्न कि कुंडली में आठवें घर में रहेगा ! जो वर्तमान में गोचर के दसवें भाव में स्थित सूर्य को देख रहा है ! गोचर का मंगल बारहवें,विदेश के भाव में स्थित होकर नरसंहार,संघर्ष,वाद-विवाद यहाँ तक कि युद्ध के छठे भाव को सातवीं पूर्ण दृष्टि से देख रहा है ! तथा यही मंगल अग्नितत्व राशि में स्थित होकर तीसरे भाव स्थित 5 ग्रहों पर चौथी दृष्टि डाले हुये है ! जनता के सातवें भाव तथा उसमें स्थित गोचर के बृहस्पति पर दृष्टि डाल कर पीड़ित किए हुये है ! तथा गोचरस्थ राहु सप्तम भाव स्थित गोचर के बृहस्पति को भी पीड़ित कर रहा है ! गोचर का मंगल जनता के सातवें भाव के साथ साथ गोचरस्थ बृहस्पति को भी पीड़ित कर रहा है ! 07 फरवरी की अमर उजाला ज्योतिष पोर्टल की अपनी वार्षिक भविष्यवाणी में हमने लिखा था कि “भारत की कुंडली जो कि वृषभ लग्न की है, उसमें आठवें भाव में बृहस्पति शनि और केतू जो कि द्वितीय भाव स्थित गोचरस्थ राहू से दृष्ट होगा, जो किसी साजिश का संकेत देता है।“ गोचर के प्रतापी मंगल और सूर्य 22 मार्च तक गोचर का मंगल मेष राषि में स्थित है ! दशा भी अष्टमेश/लाभेश की है ! मंगल 22 मार्च तक मेष में है ! और सूर्य 15 मार्च तक कुम्भ यानि शनि की राशि में दसवें भाव में रहेगा! आतंकवाद और पाकिस्तान के खिलाफ लंबी आकस्मिक कार्यवाही चलेगी ! पाकिस्तान की कुंडली में बिल्कुल वही गोचर है जो भारत की कुंडली में है ! वही बृषभ लग्न भी है ! क्योंकि पाकिस्तान 14 अगस्त को स्वतंत्र हुआ था पर ठीक 24 घंटे पहले यानी 14 अगस्त 1947 ,00:00 करांची में ! वह भी सूर्य बुध की दशा में है ! पर ठीक 24 घंटे में ही ग्रह और नक्षत्र बदल गया और पाकिस्तान कंगाल हो चुका है ! भारत की कुंडली में चंद्र में बृहस्पति की दशा चल रही है ! चंद्र तृतीयेश यानि पराक्रम के भाव का स्वामी है ! बृहस्पति अष्टमेश और लाभेष भाव का स्वामी है ! चंद्र पराक्रम के तीसरे भाव म्में सूर्य,शनि,बुध और शुक्र के साथ पंचग्रही योग में सम्मालित होकर पराक्रमी है ! पर बृहस्पति आठवें विपरीत राजयोग के रहते भी पीड़ित है ! दशम भाव का गोचर का सूर्य सूर्य, आठवें भाव में गोचर का का शनि, बारहवें भाव का मंगल सातवें भाव का बृहस्पति क्या भारत करेगा जबर्दस्त कार्यवाही :-   भारत बहुत बड़ी कार्यवाही करने जा रहा है ! जबरदस्त अंतरराष्ट्रीय सहयोग के साथ-साथ ही अंतरराष्ट्रीय हस्तक्षेप तथा सुलह समझौते के प्रयास दिख रहे हैं लेकिन इस बार भारत अड़ता दिख रहा है ! मध्य मार्च तक भारत बहुत ही कूटनीतिक तरीके से गोपनीय तरीके से विश्व स्तर तक इस मुद्दे को लेजाकर आतंकवाद और पाकिस्तान पर जबर्दस्त कार्यवाही करेगा ! ग्रह तो साफ-साफ यही संकेत दे रहे हैं ! इतने प्रभावी मंगल और सूर्य के गोचर के कारण 15 मार्च या उससे अधिक समय तक आतंकवादियों पर कहर बरपाएगा ! यह संघर्ष कुछ संवैधानिक मजबूरिया भी पैदा कर सकता है !   ज्योतिष सदन, अयोध्या Whatsapp - 9125000013,9125000031    
Read 2426 times
Login to post comments