My Cart:
Total 0.00 ₨
 x 

Your shopping cart is empty!

Total 0.00 ₨
Sunday, 11 February 2018 04:29

वक्री ग्रह और चिकित्सा ज्योतिष

Written by
Rate this item
(0 votes)
astrologer sushil kumaar singh astrologer sushil kumaar singh
वक्री ग्रह और चिकित्सा ज्योतिष - वक्री ग्रह कहीं भी शुभ हो सकते हैं पर स्वास्थ्य के मामले में यह हमेशा बुरा असर ही देगा ! जो शनि अपवाद स्वरूप आठवें घर में बैठकर लंबी आयु का आश्वासन देता है ! वक्री होने की स्थिति में वह गंभीरतम बीमारी दे सकता है ! केंद्रों में शुभ ग्रह वक्री होकर स्वास्थ्य के लिए काल बन जाते हैं ! गंभीर असाध्य और कष्टकर बीमारी की स्थिति में लग्न पीड़ित होगा,लग्नेश वक्री हो तो बहुत ही बुरा ! केंद्रों अर्थात लग्न 4,7,10 वें घर में वक्री ग्रह हो तो बहुत बुरा , लग्न में वक्री ग्रह हो तो पीड़ादायी और यदि यह लग्नेश होकर लग्न में वक्री बैठ जाए तो नियमित रूप से डॉक्टर के संपर्क करते रहे !और यदि वक्री लग्नेश लग्न में बैठकर 6वें घर से भी सम्बन्ध बनाये तो स्थिति अच्छी नहीं कही जाएगी!   Astrologer Sushil Kumaar Singh is an internationally acclaimed Vedic Astrologer, recognized for his accurate predictions.  His astrology services include Life Reading, Career Report, Detailed Kundali Matching, Match Making, Health Report, Business Report, Finance Report, Love Chemistry Report and more. BOOK AQUICK ANSWER IN 2-3 HOURS OR A PHONE CONSULTATION WITH ASTROLOGER SUSHIL KUMAAR SINGH. FOR IMMEDIATE RESPONSE PLEASE FEEL FREE TO CONTACT HIM ON THE FOLLOWING NUMBERS (91-7985517269  WHAPP 91-9621127233)
Read 457 times
Login to post comments